Pakistan: पाकिस्तान में सरकार बनाने को लेकर रार, नवाज को बिलावल का समर्थन नहीं

खबरें सुने

कराची। पाकिस्तान में चुनाव के बाद सरकार बनाने को लेकर स्थिति अस्पष्ट है। हिंसक चुनावों के बाद नतीजों में गड़बड़ी के आरोपों के बीच नवाज शरीफ की पार्टी ने सरकार बनाने का दावा किया था। बिलावल की पार्टी पीपीपी में गठबंधन सरकार बनने की चर्चा थी, लेकिन अब वो बात भी नहीं बन पाई है।

दरअसल, पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने खुलासा किया है कि उन्होंने गठबंधन सरकार के फॉर्मूले को नहीं स्वीकारा है। उन्होंने कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री का पद ऑफर हुआ था, लेकिन उन्होंने इस लेने से मना कर दिया। बिलावल ने कहा कि वो जनता के जनादेश के बिना शीर्ष पद नहीं लेना चाहते।

35 वर्षीय पूर्व विदेश मंत्री बिलावल पीपीपी का प्रधानमंत्री पद का चेहरा थे। हालांकि, 8 फरवरी के चुनावों में उनकी पार्टी नेशनल असेंबली में 54 सीटों के साथ तीसरे स्थान पर रही। जेल में बंद इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) को सबसे ज्यादा सीटें मिली और नवाज शरीफ की पाकिस्तान मुस्लिम लीग दूसरे स्थान पर रही।

पीपीपी और पीएमएल-एन ने चुनाव के बाद गठबंधन तो बनाया लेकिन वो कई बैठकों के बावजूद सत्ता-साझाकरण फॉर्मूले पर आम सहमति तक पहुंचने में विफल रहे हैं। सिंध प्रांत में पीपीपी की चुनावी जीत का जश्न मनाने के लिए आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए बिलावल ने कहा, बिलावल ने यह भी कहा कि उनके पिता आसिफ अली जरदारी राष्ट्रपति पद के लिए पीपीपी के उम्मीदवार होंगे।

 

यह पढ़ेंःPakistan: पाकिस्तान की अगली गठबंधन सरकार के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ नहीं बल्कि भाई शहबाज होंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *