Punjab: अन्नदाता के विरुद्ध पुलिस कार्यवाही ने मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार का लोकतंत्र विरोधी किरदार नंगा किया: चेतन सिंह जौड़ामाजरा

खबरें सुने
  • जल संसाधन मंत्री द्वारा किसानों के विरुद्ध दमनकारी कार्यवाहियों की सख़्त निंदा

चंडीगढ़, 15 फ़रवरी:

खनौरी और शंभू सरहद पर हरियाणा पुलिस द्वारा किसानों पर किए गए अत्याचार का सख़्त नोटिस लेते हुए पंजाब के जल संसाधन और भूमि व जल संरक्षण मंत्री स. चेतन सिंह जौड़ामाजरा ने आज कहा कि इस कारनामे से भाजपा सरकारों की लोकतंत्र विरोधी और तानाशाही मानसिकता का घिनौना चेहरा सामने आ गया है, जो किसानों की आवाज़ को दबाने के लिए इस हद तक गिर गई है।

कैबिनेट मंत्री ने किसानों के साथ किए वायदों को पूरा करने में नाकाम रहने के लिए मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की सख़्त निंदा की। उन्होंने कहा कि यह सरकार किसान भाईचारे की जायज माँगों को नजरअन्दाज करके, उल्टा बड़े उद्योगपतियों को करोड़ों रुपए की बड़ी राहतें और छूट देने में व्यस्त है। उन्होंने कहा कि किसान देश की रीढ़ की हड्डी हैं और केंद्र सरकार से सम्मानजनक रवैये के हकदार हैं। उन्होंने हालात बिगडऩे पर निराशा ज़ाहिर करते हुए कहा कि यह गलत कार्यवाहियाँ मोदी सरकार के किसानों का सामना करने से डर को जग-ज़ाहिर करती हैं।

मीडिया को जख़़्मी किसानों की तस्वीरें जारी करते हुए कैबिनेट मंत्री ने किसानों के विरुद्ध आँसू गैस और पैलेट गन्स का प्रयोग, सडक़ों पर बैरीकेड लगाने और राष्ट्रीय राजधानी की किलेबंदी करने की सख़्त आलोचना की। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा किसानों के साथ किए गए अपने वायदों को पूरा न करना और इस कद्र तनावपूर्ण स्थिति पैदा करना अफसोसजनक है।

किसानों के लिए मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान की सरकार के समर्थन को दोहराते हुए स. चेतन सिंह जौड़ामाजरा ने कहा कि मोदी सरकार अपने वायदे पूरे करने में असफल होने पर किसानों पर ज़ुल्म कर रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह के दिशा-निर्देशों पर वह ख़ुद और स्वास्थ्य मंत्री डॉ. बलबीर सिंह जख़़्मी किसानों का हाल-चाल जानने के लिए अस्पताल का दौरा कर रहे हैं।

भाजपा के नेतृत्व वाली हरियाणा सरकार पर बरसते हुए कैबिनेट मंत्री ने किसानों को उनके शांतमयी मार्च से रोकने के लिए पुलिस का प्रयोग करने की निंदा की। उन्होंने इसको निरादर भरा और ग़ैर-लोकतांत्रिक कार्यवाही करार देते हुए केंद्र सरकार को किसानों के मुद्दों का तुरंत हल करने और किए गए वायदों के मुताबिक सुधारों को लागू करने और देश की खाद्य सुरक्षा एवं ग्रामीण क्षेत्रों की खुशहाली के लिए किसानों की भलाई को प्राथमिकता देने की अपील की।

मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार और खट्टर के नेतृत्व वाली हरियाणा सरकार को किसानों के साथ सौतेली माँ वाला सलूक बंद करने और देश की तरक्की में ‘‘अन्नदाता’’ की अहम भूमिका को पहचानने की अपील करते हुए स. चेतन सिंह जौड़ामाजरा ने कहा कि भाजपा सरकारों ने किसानों के साथ किए गए अपने वायदों को भुला दिया है और उनको बड़ी चुनौतियों से जूझने के लिए छोड़ दिया है, जो स्वीकार नहीं किया जा सकता।

 

Pls read:Uttarakhand: मुख्यमंत्री ने गौचर में आयोजित नंदा-गौरा महोत्सव में किया प्रतिभाग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *