…तो क्या सौरव गांगुली ने झूठ बोला था?

खबरें सुने

विराट कोहली ने बुधवार को दक्षिण अफ्रीका रवाना होने से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कई विवादों को खारिज कर दिया है। वहीं अपने एक बयान से उन्होंने एक नया विवाद भी खड़ा कर दिया है। दरअसल बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने बयान दिया था कि उन्होंने कोहली से टी20 कप्तानी नहीं छोड़नी की अपील की थी। वहीं अब विराट ने कहा है कि उनसे ऐसा कभी नहीं कहा गया था।

विराट कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि, ‘मुझे कभी भी नहीं कहा गया था कि आप टी20 कैप्टेंसी मत छोड़िए। बल्कि मेरे इस फैसले को प्रोग्रेस के तौर पर स्वीकार किया गया था। टेस्ट टीम के चयन से महज डेढ़ घंटे पहले मुझे 8 दिसंबर को कॉन्टैक्ट किया गया था। उससे पहले टी20 कैप्टेंसी पर मुझसे किसी ने भी बात नहीं की थी।’ वहीं सौरव गांगुली ने मीडिया से साफतौर पर कहा था कि,’उन्होंने व्यक्तिगत तौर पर विराट कोहली से टी20 की कप्तानी नहीं छोड़ने का आग्रह किया था। लेकिन वर्कलोड के कारण उन्होंने ऐसा किया, जो कि ठीक था एक खिलाड़ी के तौर पर मैं समझ सकता हूं। वे एक शानदार और बड़े खिलाड़ी हैं। ऐसा लाजिमी है।’

दोनों बयान आपके सामने हैं और सोशल मीडिया पर दोनों बातों का एकसाथ वीडियो भी वायरल हो रहा है। हर किसी के जहन में ये सवाल है कि कौन सही है और कौन गलत। सौरव गांगुली ने झूठ बोला था या विराट कोहली झूठ बोल रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *