मध्य प्रदेश के चिड़ि‍या गिरोह के पांच सदस्य देहरादून में गिरफ्तार

खबरें सुने

देहरादून: शादी समारोह, मेलों और भीड़भाड़ वाली जगह से पर्स व गहने चोरी करने वाले मध्य प्रदेश के अंतरराज्यीय चिडिय़ा गिरोह के पांच सदस्यों को पटेलनगर कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपितों में चार महिलाएं हैं। सभी आरोपित मध्य प्रदेश के रहने वाले हैं और एक ही परिवार के हैं। वह नौ दिसंबर को देहरादून पहुंचे थे और उसी रात जीएमएस रोड स्थित होटल सनपार्क इन से दूल्हे की मां का रुपयों से भरा पर्स चोरी कर लिया। तभी से पुलिस इन्हें तलाश रही थी। पटेलनगर कोतवाली के इंस्पेक्टर रविंदर कुमार ने बताया कि एक होटल के मालिक संदीप शर्मा निवासी राजपुर रोड ने चोरी की शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसमें बताया कि नौ दिसंबर को उनके बेटे की शादी थी। शादी समारोह होटल सनपार्क इन में था। वहां से समारोह के दौरान रात में किसी वक्त संदीप की पत्नी मधु शर्मा का रुपयों से भरा पर्स चोरी हो गया। इस मामले की जांच बाजार चौकी इंचार्ज विवेक राठी को सौंपी गई थी। उन्होंने होटल में जाकर घटना वाली रात की सीसीटीवी फुटेज चेक की तो समारोह में मौजूद कुछ महिलाओं की हरकतें संदिग्ध प्रतीत हुईं। उनकी फुटेज निकाल ली गई।

इसके बाद 11 दिसंबर की रात पुलिस ने कमला पैलेस व निरंजनपुर सब्जी मंडी के आसपास और कारगी चौक क्षेत्र में सघन चेकिंग की। इस दौरान कमला पैलेस के निकट एक कार रोकी गई, जिसमें चार महिलाएं और एक पुरुष सवार था। महिलाओं का हुलिया होटल से मिली सीसीटीवी फुटेज से काफी हद तक मेल खा रहा था। इस आधार पर पुलिस ने कार की जांच की तो पता चला कि उसकी नंबर प्लेट नकली है। असली नंबर प्लेट कार की डिक्की में रखी थी। महिलाओं के पास एक लाख पांच हजार रुपये भी मिले। सख्ती करने पर आरोपितों ने होटल सनपार्क इन में चोरी की बात कबूलने के साथ ही बताया कि वह इस समय शादी समारोह वाले किसी होटल या गेस्ट हाउस में चोरी की फिराक में निकले थे। इसीलिए कार में नकली नंबर प्लेट लगाई थी, ताकि पुलिस की पकड़ में आएं। वारदात के दौरान वह हमेशा यही करते थे। आरोपितों की पहचान सोनू, कामिनी, पिराना, पुष्पा व आरती के रूप में हुई। सभी मध्य प्रदेश के जिला राजगढ़ के ग्राम कडिया के रहने वाले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *