Uttarakhand: उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड और दिल्ली में लूट की 38 वारदातों को अंजाम देने वाला शातिर लूटेरा गिरफ्तार

खबरें सुने

देहरादून, 28 फरवरी: उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में 30 से ज्यादा लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाला शातिर लुटेरा एसटीएफ उत्तराखंड के हत्थे चढ़ा है। आरोपी सगीर निवासी मोहल्ला हाजीपुर, कस्बा टांडा, रामपुर के खिलाफ लूट, चोरी और हत्या के प्रयास के कुल 38 मुकदमे दर्ज हैं। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड पुलिस ने उस पर 25-25 हजार रुपये का इनाम भी रखा था। आरोपी को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।

एसएसपी एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने बताया कि पिछले साल 11 मार्च को बाजपुर निवासी शेर मोहम्मद की मोटरसाइकिल रोककर दो बदमाशों ने लूट की थी। बदमाशों ने उनसे 50 हजार रुपये और अन्य सामान लूट लिया था। 16 दिन बाद मुरादाबाद में लकड़ी ठेकेदार अख्तर हुसैन निवासी कुंदरकी अपने घर लौट रहे थे। बदमाशों ने उनकी मोटरसाइकिल रोकी और डरा धमकाकर 1.70 लाख रुपये लूट लिए थे।

पुलिस की जांच में सगीर का नाम सामने आया। उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश पुलिस ने उस पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। सगीर लगातार पुलिस की पकड़ से बाहर चल रहा था। हाल ही में सूचना मिली कि वह दिल्ली में है। एसटीएफ की टीम ने एक हफ्ते से उस पर नजर रखे हुए थी। टीम ने सर्विलांस और मुखबिरों की सूचना के आधार पर सगीर को बाबूनगर मुस्तफाबाद दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया।

सबसे ज्यादा रामपुर में दर्ज हैं मुकदमे:

आरोपी सगीर के खिलाफ रामपुर में लूट, चोरी और हत्या के प्रयास के कुल 16 मुकदमे दर्ज हैं। इसके अलावा मुरादाबाद में 13 और दिल्ली में सात मुकदमे दर्ज हैं। आरोपी 2014 से अपराध में लिप्त है। वह उत्तरप्रदेश और दिल्ली पुलिस की पकड़ में नहीं आया था। एसटीएफ एसएसपी ने बताया कि आरोपी की पिछले साल से ही तलाश की जा रही थी। एक साल बाद वह गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

Pls read:Uttarakhand: टोल टैक्स में वृद्धि, देहरादून-हरिद्वार-दिल्ली मार्ग पर इतना हुआ टोल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *