Punjab: सरकार जल्द ही 100 और आम आदमी क्लीनिक लोगों को समर्पित करेगी – मुख्यमंत्री

खबरें सुने
  • स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के कामकाज की प्रगति का जायज़ा लिया
  • अधिकारियों को राज्य में नये बन रहे मैडीकल कालेजों को चालू करने की प्रक्रिया में तेज़ी लाने के लिए कहा
  • लोगों को मानक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए वचनबद्धता दोहराई

चंडीगढ़, 7 दिसंबरः
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने आज कहा कि राज्य सरकार पंजाब निवासियों को मानक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए जल्दी ही 100 और आम आदमी क्लीनिक समर्पित करेगी।
आज यहाँ स्वास्थ्य एवं परिवार भलाई विभाग के कामकाज का जायज़ा लेते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार राज्य में प्राइमरी स्वास्थ्य देखभाल की कायाकल्प करने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अब तक 664 आम आदमी क्लीनिक लोगों को समर्पित किये हैं जहाँ 84 ज़रूरी दवाएँ और 40 से अधिक टैस्टों की सुविधा मुफ़्त मुहैया करवाई जा रही है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि आगामी दिनों में 100 और क्लीनिक लोगों को समर्पित करने से मानक स्वास्थ्य सेवाएं यकीनी बनाईं जा सकेंगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आम आदमी क्लीनिक राज्य में स्वास्थ्य देखभाल ढांचे को मज़बूत करने में वरदान साबित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन क्लीनिकों का अब तक 80 लाख से अधिक लोगों ने लाभ लिया है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि इन क्लीनिकों ने स्वास्थ्य क्षेत्र में क्रांतिकारी तबदीली लाई है जिससे आम आदमी को बहुत फ़ायदा हुआ है।
एक अन्य मुद्दे पर चर्चा करते हुये मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को राज्य में नये बन रहे मैडीकल कालेजों को चालू करने के लिए प्रक्रिया में तेज़ी लाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि आज़ादी के 75 सालों बाद राज्य में सिर्फ़ तीन मैडीकल कालेज खुले हैं। भगवंत सिंह मान ने कहा कि अब आगामी एक साल में राज्य में पाँच और मैडीकल कालेज खोले जाएंगे।
मुख्यमंत्री ने उम्मीद ज़ाहिर की कि आने वाले सालों में एक-एक मैडीकल कालेज राज्य के हरेक जिले में खुलेगा और यह यकीनी बनाया जायेगा कि आम आदमी इसका लाभ उठा सके। भगवंत सिंह मान ने कहा कि इससे राज्य के विद्यार्थियों को मानक इलाज और डाक्टरी शिक्षा प्रदान करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि पंजाब को देश में मैडीकल शिक्षा का केंद्र बनाने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जायेगी।
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को कहा कि लोगों को हर तरह के साथ मानक स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करवाना यकीनी बनाया जाये। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य क्षेत्र राज्य सरकार का प्रमुख क्षेत्र है और इस नेक कार्य के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जायेगी। भगवंत सिंह मान ने कहा कि सरकार राज्य के सर्वांगीण विकास और लोगों की कल्याण के लिए वचनबद्ध है।

 

Pls read:Uttarakhand: तीन लाख करोड़ के हुए एमओयू, 44 हजार करोड़ की हुई ग्राउंडिंग- सीएम धामी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *