Punjab: पेडा द्वारा रीन्यूएबल परचेज ओबलीगेशन की निगरानी के लिए वैब पोर्टल लांच

खबरें सुने
  • यह कदम उपभोग संबंधी डेटा को चरणबद्ध करने और पालना संबंधी रिपोर्टों को आनलाइन तैयार करने में सहायक होगा : अमन अरोड़ा
  • पालना न करने की सूरत में रैगूलेटर द्वारा की जाएगी कार्यवाही

चंडीगढ़, 20 अक्तूबरः

मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान की वचनबद्धता के अंतर्गत ’डिजिटल पंजाब’ की दिशा की तरफ अहम कदम उठाते हुये पंजाब ऊर्जा विकास एजेंसी (पेडा) ने राज्य में रीन्यूएबल परचेज ओबलीगेशन ( आर. पी. ओ.) की निगरानी के लिए एक वैब पोर्टल लांच किया है।

पंजाब के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत मंत्री श्री अमन अरोड़ा ने कहा कि सभी संबंधी इकाईयाँ ( ओबलीगेटिड ऐंटटीज़) जैसे डिस्ट्रीब्यूशन कंपनियाँ ( डिसकाम), केप्टिव पावर प्लांटज़ ( सी.पी.पी.) और ओपन एक्सैस ( ओ.ए.) खपतकारों के लिए rpo.peda.gov.in पर रजिस्टर करना और आर.पी.ओ. की पालना संबंधी डाटा पेश करना अनिर्वाय है।
श्री अमन अरोड़ा ने कहा कि आर.पी.ओ. पोर्टल को ओबलीगेटिड ऐंटटीज़ के बारे में जानकारी के एक व्यवस्थित डाटाबेस के तौर पर विकसित किया गया है जो यह बताएगा कि क्या आर.पी.ओ. लक्ष्यों को पूरा किया जा रहा है या नहीं और इसकी पालना न करने की सूरत में बनती कार्यवाही के लिए रैगूलेटर के संज्ञान में लाया जाएगा।
पेडा के सी. ई. ओ. डा. अमरपाल सिंह ने कहा कि नवीकरणीय ऊर्जा ऊर्जा क्षेत्र के विस्तार से इस प्रकार की इकाईयों की संख्या में विस्तार हो रहा है जो आर.पी.ओ. सबंधी लक्ष्यों को पूरा करने के लिए पाबंद है।
अब उपभोक्ता परंपरागत नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत के प्लांटों और प्राप्त की ऊर्जा की उपभोग सम्बन्धित डेटा दर्ज कर सकते है, सबंधित दस्तावेज़ों को अपलोड कर सकते है और रिपोर्ट जमा कर सकते है।
डा. अमरपाल सिंह ने कहा कि वैब पोर्टल के साथ ज़रूरी डाटा एकत्रित करने, भाईवालों के दरमियान संचार, लक्ष्य निर्धारित करने और समय-समय पर रिपोर्टों तैयार करने में भी लाभदायक होगा। यह पोर्टल आर.पी.ओ. पालना प्रक्रिया में पारदर्शिता को बढाएगा।

सी.ई.ओ. ने कहा कि वैब पोर्टल उपभोक्ता प्रमाणीकरण पर आधारित होगा और पोर्टल पर पहले से ही अधिकारित मंजूरी के लिए मंजूरी देने वालों की एक डायरेक्टरी भी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *