Uttarakhand: उत्तराखंड के मदरसों में पढ़ाई जाएगी संस्कृत

खबरें सुने

Dehradun. उत्तराखंड में स्थित मदरसों में अब संस्कृत पढ़ाई जाएगी। राज्य के मदरसों में एनसीईआरटी पाठ्यक्रम लागू हो रहा है। एनसीईआरटी के तहत अन्य विषयों के अलावा मदरसे में पढ़ रहे छात्र संस्कृत भी पढ़ सकेंगे। इसकी जानकारी खुद उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स ने दी है।

उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स ने बताया कि उत्तराखंड देवभूमि है। अगर यहां संस्कृत नहीं पढ़ाई जाएगी तो कहां पढ़ाई जाएगी। अब मुस्लिम समाज के लोग भी बदलाव चाहते हैं। मदरसों के अपग्रेडेशन से वे काफी खुश हैं। उन्होंने कहा कि एक मुस्लिम लड़की रजिया सुल्ताना ने संस्कृत में पीएचडी की है। रजिया संस्कृत में कुरान का अनुवाद कर रही है।

बता दें रजिया को वक्फ बोर्ड की राज्य स्तरीय शिक्षा समिति में बतौर सदस्य शामिल किया जाएगा। शादाब शम्स ने कहा कि बोर्ड में पंजीकृत मदरसों को मॉडर्न किया जा रहा है। इसमें बच्चों को स्मार्ट क्लास व आधुनिक शिक्षा के साथ टैबलेट व कंप्यूटर भी मुहैया कराए जाएंगे। इसी क्रम में उत्तराखंड के चार जिलों में चार मदरसों को आधुनिक शिक्षा की शुरुआत की जा रही है।

 

Pls read:Uttarakhand: मुख्यमंत्री धामी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *