Himachal: भाजपा प्रत्याशी कंगना रनौत ने मंडी सीट से भरा अपना लोकसभा नामांकन

मंडी। बॉलीवुड कलाकार और भाजपा की मंडी से प्रत्याशी कंगना रनौत ने निर्वाचन अधिकारी मंडी अपूर्व…

Himachal: कांग्रेस के कुशासन के कारण देश हिंदू राष्‍ट्र घोषित नहीं हुआ- कंगना रनौत

कुल्‍लू। अभिनेता से राजनेता बनी भाजपा लोकसभा उम्‍मीदवार कंगना रनौत ने अपने पिछले विवादित बयान को दोहराया…

himachal: कंगना कर रही “टपोरी” भाषा का प्रयोग, हिमाचल में इसकी नहीं कोई जगह- विक्रमादित्य

मंडी (हिमाचल प्रदेश): मंडी संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी विक्रमादित्य सिंह ने सोमवार को बीजेपी प्रत्याशी और एक्ट्रेस कंगना रनौत पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कंगना को खुली चुनौती देते हुए कहा कि अगर उनमें हिम्मत है तो वह सेरी मंच पर आकर जनता को अपना विजन बताएं। कंगना पर तंज: विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि कंगना रनौत इतिहास को विकृत करने का प्रयास कर रही हैं। 2014 में आजादी मिलने की बात कहकर वह हजारों स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान कर रही हैं। उन्होंने कंगना की भाषा को “टपोरी“ करार दिया और कहा कि देवभूमि हिमाचल में ऐसी शब्दावली के लिए कोई जगह नहीं है। जयराम ठाकुर पर निशाना: विक्रमादित्य सिंह ने नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर पर भी निशाना साधा और कहा कि उन्होंने मंडी की जनता को अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का झूठा सपना दिखाया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से जो मदद मिली है वह हिमाचल का हक है, इसका श्रेय प्रदेश सरकार को जाता है। विकास के वादे: विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि मंडी शहर को स्मार्ट सिटी का दर्जा दिलाया जाएगा। पंचवक्त्र मंदिर के आगे ब्यास नदी को रिवर फ्रंट के रूप में विकसित किया जाएगा। होली उतराला सड़क, चैहणी, भुभु जोत और जलोड़ी जोत सुरंग का काम युद्धस्तर पर होगा। भाजपा पर हमला: विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि भाजपा ने मुंबई से पैराशूट प्रत्याशी लाकर उतारा है। उन्होंने कहा कि भाजपा रामस्वरूप शर्मा, महेश्वर सिंह, अजय राणा, बिहारी लाल और ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर जैसे नेताओं के योगदान को भूल गई है। कौल सिंह ठाकुर भी रहे मौजूद: इस अवसर पर पूर्व मंत्री कौल सिंह ठाकुर भी उपस्थित थे।

Congress: रॉबर्ट वाड्रा ने ऋषिकेश में की गंगा आरती, जताई अमेठी से चुनाव लड़ने की मंशा

ऋषिकेश: कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी के पति और जाने–माने व्यवसायी रॉबर्ट वाड्रा ने आज ऋषिकेश के पवित्र त्रिवेणी घाट पर गंगा आरती में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की राजनीतिक सफलता के लिए प्रार्थना की। धर्म और राजनीति अलग–अलग रखने की अपील मीडिया से बातचीत में वाड्रा ने धर्म और राजनीति को अलग रखने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया। उन्होंने कहा, “धर्म की आड़ में राजनीति करना गलत है। दोनों को अलग–अलग रखना चाहिए।“ भाजपा सरकार पर निशाना वाड्रा ने भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार लोगों में डर फैलाती है और चुनावी वादे पूरे नहीं करती। साथ ही, उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा आम जनता के असल मुद्दों से ध्यान भटकाती है। कांग्रेस की जीत का दावा वाड्रा ने दावा किया कि पहले चरण का चुनाव कांग्रेस के पक्ष में गया है और देश में बदलाव की लहर है। सक्रिय राजनीति में एंट्री? जब उनसे सक्रिय राजनीति में आने के बारे में पूछा गया तो वाड्रा ने कहा कि देश के लोग उन्हें राजनीति में देखना चाहते हैं और वे समाज सेवा के लिए हमेशा तत्पर रहेंगे। अमेठी कनेक्शन वाड्रा ने अमेठी में अपने पिछले चुनावी योगदान का भी ज़िक्र किया। उन्होंने कहा कि 1999 से ही वे अमेठी में सक्रिय रहे हैं और 2004 में सोनिया गांधी को भारी बहुमत से जिताने में उनकी अहम भूमिका थी।

Himachal: विक्रमादित्य बोले- बोलने से पहले इतिहास पढ़कर आए कंगना

गोहर/सुंदरनगर: हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के बेटे और कांग्रेस प्रत्याशी विक्रमादित्य सिंह ने मंडी संसदीय क्षेत्र से अपनी चुनावी यात्रा की शुरुआत कर दी है। इस दौरान उन्होंने भाजपा और अभिनेत्री कंगना रनौत पर जमकर निशाना साधा। कंगना को नसीहत, इतिहास पढ़कर आएं: नाचन विधानसभा के चैलचौक और सुंदरनगर में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलनों में विक्रमादित्य सिंह ने कंगना रनौत को सलाह दी कि वह मंच पर बोलने से पहले देश और प्रदेश का इतिहास पढ़कर आएं। उन्होंने कहा कि कंगना दूसरों को हिंदू विरोधी कहने से पहले अपने गिरेबान में झांक कर देखें। उन्होंने याद दिलाया कि मतांतरण पर कानून बनाने वाला हिमाचल पहला राज्य था और अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि और दशहरा उत्सव में देवी–देवताओं का नजराना और देव सदनों का निर्माण उनके पिता वीरभद्र सिंह ने करवाया था। भाजपा पर भी हमला: विक्रमादित्य सिंह ने भाजपा पर भी निशाना साधते हुए कहा कि पार्टी क्षेत्रवाद, जातिवाद का जहर घोलने और व्यक्तिगत आक्षेप लगाने के बजाय मुद्दों और भविष्य की बात करे। उन्होंने कहा कि वह देवी–देवताओं के आशीर्वाद से नई सोच के साथ आगे बढ़ेंगे और मजबूती के साथ चुनाव लड़ेंगे और जीतेंगे भी। पिता की विरासत को आगे बढ़ाने का संकल्प: विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि पार्टी ने उन्हें जब दिल्ली में चुनाव लड़ने की जिम्मेदारी दी तो उन्हें अपने पिता का 1962 का किस्सा याद आ गया, जब उन्हें कॉलेज से बुलाकर महासू सीट से चुनाव लड़ने भेजा गया था। उन्होंने कहा कि वह भी पिता के नक्शे कदम पर चलकर आगे बढ़ेंगे। जयराम ठाकुर पर कटाक्ष: विक्रमादित्य सिंह ने नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह प्रदेश सरकार के गिरने और मुख्यमंत्री बनने का सपना छोड़ दें। उन्होंने कहा कि सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी और जनता की सेवा करती रहेगी। विक्रमादित्य सिंह के चुनावी मैदान में उतरने से मंडी संसदीय क्षेत्र का चुनाव रोचक हो गया है। देखना होगा कि जनता किस पर अपना भरोसा जताती है।   Pls read:Himachal: बिलासपुर में महिलाओं…

Uttarakhand: यूपी में पहले बमबाजी होती थी, अब हर हर बम बम का उद्घोष होता है- सीएम योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज हल्द्वानी के एमबी इंटर कॉलेज में आयोजित भाजपा की…

Uttarakhand: पीएम मोदी के नेतृत्व में बड़ा भारत का मान सम्मान- सीएम धामी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को गरुड़ के रामलीला मैदान में जनसभा को संबोधित कर…

Uttarakhand: वायरल फोटो पर हरीश रावत की कड़ी प्रतिक्रिया, बोले- स्टिंगबाज भी सांसद बनने का देखने लगे ख्वाब

देहरादून। इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रही उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत की पीएम नरेंद्र…

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट का वीडियो वायरल, फोन पर कांग्रेस से रिजाइन करने का समझा रहे तरीका

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद महेंद्र भट्ट का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से…

Uttarakhand: 11 अप्रैल को पीएम मोदी की हरिद्वार में चुनावी जनसभा

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर उत्तराखंड में चुनाव प्रचार के लिए आ रहे हैं।…