Ayodhya: रामलला की हुई प्राण प्रतिष्ठा, पीएम मोदी बोले-ये राम के रूप में राष्ट्र चेतना का मंदिर है

खबरें सुने

रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा हो गई। अयोध्यावासियों के लिए यह एक स्वर्णिम दिन है। पीतांबरधारी राघव की इस मूर्ति को देखकर रामभक्त भावविभोर हो रहे हैं। सूर्यवंशी श्रीराम की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा हो जाने के बाद अब रामभक्त अपने भगवान के दर्शन करने के लिए बेताब हैं। पीएम मोदी ने आगे कहा कि ये राम के रूप में राष्ट्र चेतना का मंदिर है। राम आधार हैं। राम भारत के विचार हैं। ये राम के रूप में राष्ट्र चेतना का मंदिर है। राम भारत का विचार हैं। राम का विधान हैं। पीएम मोदी ने कहा,”आज का अवसर उत्सवता का तो क्षण है ही इसके अलावा भारत के समाज के परिपक्वता का क्षण है। दुनिया का इतिहास साक्षी है कई राष्ट्र अपने ही उलझन में उलझ गए। कई लोग कहते थे कि राम मंदिर बना तो आग लग जाएगा,ऐसे लोग भारत के परिपक्वता को नहीं जान पाए। मैं उन लोगों को कहना चाहूंगा कि आइए महसूस कीजिए राम आग नहीं ऊर्जा है। राम समाधान है। राम सबके हैं। राम सिर्फ वर्तमान नहीं, अनंत काल हैं।”

पीएम मोदी ने आगे कहा कि हमारे प्रयास में कुछ तो कमी रही होगी कि इतने सालों तक हम रामलला को मंदिर में स्थापित नहीं कर पाए।

उन्होंने आगे कहा कि दशकों तक श्रीराम के अस्तित्व को लेकर कानून लड़ाई चली। मैं धन्यवाद देता हूं भारत की न्यायपालिका की, जिसने भारत की लाज रख ली। प्रभु राम की मंदिर भी न्यायबद्द तरीखे से बना। आज देश के मंदिरों में कीर्तन हो रहा, स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा। आज शाम घर-घर राम ज्योति जलाने की तैयारी है।

पीएम मोदी ने मंदिर परिसर के मंच से लोगों को संबोधित किया। उन्होंने कहा, हमारे प्रभु राम आ गए हैं। कितना कुछ कहने को है, लेकिन मेरा चित्त अभी भी उस पल में लिन है। हमारे रामलला अब टैंट में नहीं रहेंग। अब रामलला दिव्य मंदिर में रहेंगे।

पीएम मोदी ने कहा कि 22 जनवरी, ये कलैंडर पर लिखी तारीख नहीं बल्कि नए कालक्रम का उत्सव है। उमंग और उत्साह बढ़ता जा रहा है। निर्माण कार्य देख हर दिन नया विश्वास पैदा हो रहा है। आज सदियों के धैर्य की धरोहर मिली है। आज हमें श्रीराम का मंदिर मिला है। गुलामी की जंजीरों को तोड़कर राष्ट्र खड़ा हुआ है।

आज से हजार साल के बाद भी लोग आज की इस तारीख को याद रखा जाएगा। सीएम योगी आदित्यानाथ के बाद आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा,”आज के आनंद को शब्दों में वर्णन नहीं किया जा सकता है। उन्होंने आगे पीएम मोदी का जिक्र करते हुए कहा, मैं पीएम मोदी को बहुत दिनों से जानता हूं, पीएम मोदी ने काफी कठोर वर्त रखा है। पीएम मोदी तपस्वी हैं। अयोध्या में कोई कलह नहीं है।” रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा की जाने के बाद उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ मंदिर परिसर में मौजूद बनाए गए मंच से लोगों को संबोधित कर रहे हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज भारत का हर नगर हर ग्राम अयोध्याधाम है। आज पूरा राष्ट्र राममय है। इस सदी की प्रतिक्षा में पांच सदी बीत गई। मंदिर वहीं, बना जहां संकल्प लिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *