Punjab: मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान के निर्देशों पर राज्य निवासियों को बिना किसी परेशानी के आसान और पारदर्शी नागरिक सेवाएं देने की कवायद

खबरें सुने
  • मोहाली तहसील में बनेगा अति-आधुनिक सब-रजिस्ट्रार दफ़्तर, एक ही छत के नीचे 90 मिनटों के अंदर होगी जायदाद की रजिस्ट्री: अनुराग वर्मा
  • मुख्य सचिव द्वारा जि़ला प्रशासनिक कॉम्पलैक्स मोहाली में अलग-अलग दफ़्तरों का औचक दौरा, लोगों के साथ सीधी बातचीत करके हासिल की फीडबैक

साहिबज़ादा अजीत सिंह नगर (मोहाली)/चंडीगढ़, 4 जनवरी:

मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान द्वारा राज्य निवासियों को बिना किसी परेशानी के आसान और पारदर्शी नागरिक सेवाएं देने की वचनबद्धता पर चलते हुए राज्य सरकार द्वारा मोहाली के सब रजिस्ट्रार दफ़्तर को अति-आधुनिक बनाया जा रहा है। इस दफ़्तर में रजिस्ट्री करवाने वालों को एक ही छत के नीचे एक ही दिन में सभी सेवाएं मिलेंगी, और 90 मिनटों के अंदर जायदाद खरीदने वाले रजिस्ट्री की पूरी प्रक्रिया मुकम्मल होने पर रजिस्ट्री की कॉपी मिलेगी।

मुख्यमंत्री के निर्देशों पर बन रहे पंजाब के पहले अति-आधुनिक सब रजिस्ट्रार दफ़्तर के कार्य की समीक्षा करने के लिए मुख्य सचिव श्री अनुराग वर्मा द्वारा दौरा किया गया। उन्होंने जि़ला प्रशासनिक कॉम्पलैक्स मोहाली में अलग-अलग दफ़्तरों जैसे कि तहसील दफ़्तर, फ़र्द केंद्र, आर.टी.ए. आदि का औचक दौरा कर वहाँ मौजूद लोगों के साथ सीधी बातचीत करके फीडबैक हासिल की। उन्होंने कहा कि दफ्तरों में मौजूद कर्मचारियों को हिदायत की कि मुख्यमंत्री के सख़्त निर्देश हैं कि सरकारी दफ्तरों में कार्य करवाने के लिए आने वालों को कोई परेशानी न हो और लोगों को पारदर्शी एवं समयबद्ध सेवाएं मिलें।

मुख्य सचिव श्री वर्मा ने सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों और जि़ला प्रशासन के अधिकारियों के साथ नये बनने वाले दफ़्तर का दौरा करने के बाद इस सम्बन्धी विस्तृत मीटिंग भी की। श्री वर्मा ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि रजिस्ट्री करवाने वालों की परेशानी बिल्कुल ख़त्म करने और उनके समय की बचत करने के लिए अति-आधुनिक सुविधाओं से लैस सब रजिस्ट्रार दफ़्तर स्थापित किया जा रहा है।
नये दफ़्तर के अलग पहलुओं पर नजर डालते हुए श्री वर्मा ने बताया कि रजिस्ट्री का करार तैयार करने से लेकर पंजाब लैंड रिकॉर्ड सोसायटी के अधिकृत काउन्टर से स्टैंप पेपरों की खरीद, पहचान के लिए ई.के.वाई.सी., जायदाद की खरीद और बेचने वाले की गवाही समेत उच्च गुणवत्ता की तस्वीर खिंचवानी और रजिस्ट्री की यह सारी प्रक्रिया 90 मिनटों के अंदर मुकम्मल होगी, जिसमें रजिस्ट्री का रंगदार प्रिंट मिलने की सुविधा एक छत के नीचे मिलेगी। उन्होंने कहा कि रजिस्ट्री लिखने के अलग-अलग काउन्टर इसी दफ़्तर में होंगे। इसके अलावा यदि कोई अपने आप करार लिखना चाहता है या वह घर से ही कागज़ लिखकर लाना चाहता है तो उसके लिए ऑनलाइन काउन्टर होगा।

मुख्य सचिव ने आगे बताया कि औरतों के लिए स्टैंप ड्यूटी में 2 प्रतिशत छूट के कारण रजिस्ट्री करवाने वालों में औरतों की बड़ी संख्या को देखते हुए नये दफ़्तर में औरतों के बैठने के लिए विशेष जगहों का प्रबंध होगा। इसके साथ ही आम लोगों के बैठने के लिए इन्तज़ार क्षेत्र और सभी बुनियादी सुविधाएं मुहैया करवाई जाएंगी। रजिस्ट्री के लिए अपना समय लेने वाला व्यक्ति अपने मोबाइल पर मिली एप्ऑइंटमैंट दिखा कर दफ़्तर में आ सकेगा।

विशेष मुख्य सचिव-कम-वित्त कमिश्नर राजस्व के.ए.पी. सिन्हा ने कहा कि आने वाले भविष्य की चुनौतियों को देखते हुए सुविधाएं और स्टाफ की तैनाती की जाये, जिससे रजिस्ट्री करवाने आने वाले व्यक्तियों की संख्या बढऩे के बावजूद कोई दिक्कत न आए।

इस मौके पर सचिव लोक निर्माण विभाग प्रियांक भारती, विशेष सचिव राजस्व केशव हिंगोनिया, डिप्टी कमिश्नर आशिका जैन, स्टाफ अफ़सर टी. बैनिथ, एस.एस.पी. डॉ. सन्दीप गर्ग, एडीसी (जनरल) विराज एस तिडक़े, एस.डी.एम. चन्दर जोति सिंह, चीफ़ आर्कीटैक्ट मैडम सपना, जि़ला राजस्व अफ़सर अमनदीप चावला, सब रजिस्ट्रार बीरकरन सिंह और तहसीलदार कुलदीप सिंह ढिल्लों भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *