Punjab: पंजाब पुलिस द्वारा अमरीका आधारित सरवन सिंह द्वारा चलाए जा रहे नशा तस्करी रैकेट का पर्दाफाश; 12 किलो हेरोइन समेत एक काबू

खबरें सुने

– पंजाब पुलिस मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के निर्देशों के अनुसार पंजाब को नशा मुक्त राज्य बनाने के लिए प्रतिबद्ध
– नामी नशा तस्कर रणजीत उर्फ चीता का भाई सरवन सिंह भी 532 किलो हेरोइन के मामलो में वांछित: डीजीपी गौरव यादव
– ड्रग सप्लायरों, डीलरों और उनके खरीददारों के पूरे नैटवर्क का पता लगाने के लिए आगे की जांच जारी: ए.आई.जी. एस.एस.ओ.सी. सुखमिन्दर मान

चंडीगढ़ / अमृतसर, 23 अक्तूबर:
मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के दिशा-निर्देशों पर नशों के विरुद्ध शुरु की गई मुहिम के दौरान सरहद पार से नशीले पदार्थों के नैटवर्क को बड़ा झटका देते हुए पंजाब पुलिस ने एक व्यक्ति के कब्ज़े से 12 किलोग्राम हेरोइन बरामद करके अमरीका आधारित तस्कर सरवन सिंह द्वारा चलाए जा रहे सरहद पार नशा तस्करी के रैकेट का पर्दाफाश किया है। यह जानकारी आज यहाँ डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस गौरव यादव ने दी।
जि़क्रयोग्य है कि सरवन सिंह, जिसकी गिरफ़्तारी पर 2 लाख रुपए का इनाम है, नामी नशा तस्कर रणजीत उर्फ चीता का भाई है और 532 किलो हेरोइन के मामले में वांछित है। जि़क्रयोग्य है कि रणजीत उर्फ चीता को भी 532 किलो हेरोइन के मामले में मई 2020 में गिरफ़्तार किया गया था। बताने योग्य है कि रणजीत चीता जुलाई 2019 में आईसीपी अटारी में कस्टम विभाग द्वारा ज़ब्त की गई हेरोइन के 532 पैकेट की तस्करी का मास्टरमाईंड था और जिसकी एनआईए द्वारा जांच की जा रही है।
पकड़े गए नशा तस्कर की पहचान अमृतसर के नरायणगढ़ के निवासी राहुल के रूप में हुई है। हेरोइन बरामद करने के अलावा पुलिस टीमों ने उसकी हौंडा अमेज़ कार को भी ज़ब्त कर लिया है, जिसमें वह सफऱ कर रहा था।
डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि यह जानकारी मिलने के उपरांत स्वर्ण सिंह के साथियों ने ड्रोन के द्वारा फेंकी गई हेरोइन की खेप प्राप्त की है और वह इसको किसी अन्य व्यक्ति को पहुँचाने जा रहे हैं, इस पर तुरंत कार्यवाही करते हुए स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सैल ( एस.एस.ओ.सी.) अमृतसर ने अमृतसर शहर के क्षेत्र में एक विशेष पुलिस चैकिंग की और दोषी राहुल को उसकी हौंडा अमेज़ कार में से 12 पैकेट हेरोइन, जिनका वजऩ 1-1 किलो है, बरामद करके उसे गिरफ़्तार कर लिया।
डीजीपी ने बताया कि प्राथमिक जांच के अनुसार दोषी व्यक्ति सीधे तौर पर अमरीका आधारित तस्कर सरवन सिंह के संपर्क में था और पाकिस्तान से हेरोइन तस्करी कर राज्य भर में सप्लाई करता था।
अधिक विवरन साझा करते हुए एआईजी एसएसओसी अमृतसर सुखमिन्दर सिंह मान ने बताया कि मुलजिमों के अगले और पिछले संबंधों के बारे में पता लगाने और ड्रग सप्लायरों, डीलरों और उनके खरीददारों के पूरे नैटवर्क का पर्दाफाश करने के लिए आगे की जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि गिरफ़्तार किये गए मुलजिम द्वारा अब तक खऱीदे गए नशीले पदार्थों की कुल मात्रा का पता लगाने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं।
इस सम्बन्धी एन.डी.पी.एस एक्ट की धाराएं 21, 25 और 29 के अधीन पुलिस स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सैल अमृतसर में एफ.आई.आर. नं. 44 तारीख़ 22.10.2023 को केस दर्ज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *