Uttarkhashi: शादी की मांग को लेकर प्रेमी के घर के बाहर धरने पर बैठी प्रेमिका

खबरें सुने

उत्तरकाशी। जिले से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां एक प्रेमिका शादी की मांग को लेकर अपने प्रेमी के घर के बाहर धरने पर बैठ गई है। बताया जा रहा है कि प्रेमी ने डॉक्टर बनते ही शादी से इंकार कर दिया।

मामला नौगांव ब्लॉक के पास मुंगरा गांव का है। पीड़ित युवती बीते छह महीने से न्याय के लिए भटक रही है। उसने डीजीपी सहित महिला आयोग को पत्र लिख कर न्याय के लिए गुहार लगाई है। प्रेमिका का कहना है कि अगर उसे न्याय नहीं मिला तो वो आत्मदाह कर लेगी। मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रशासन ने गांव में पुलिस तैनात कर दी है।

युवती ने प्रेमी रवि और उसके माता- पिता के खिलाफ अगस्त महीने में बड़कोट थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है। युवती का कहना है कि साल 2020 में उसकी और रवि की जान-पहचान हुई थी। जिसके बाद उनकी दोस्ती हुई और फिर दोस्ती प्यार में बदल गई। युवती का आरोप है कि रवि प्रेम प्रसंग बढ़ने के बाद उसे लगातार शादी का झांसा देता रहा। लेकिन अब डॉक्टर बनने के बाद उसने शादी से इंकार कर दिया है। युवती का कहना है कि वो अपना गांव और अपना घर छोड़ बीते छह महीने से डॉ. रवि परमार के घर के बाहर गौशाला में रह रही है। लेकिन उसके माता-पिता उसे स्वीकारने के लिए तैयार नहीं है। बताया जा रहा है कि युवती ने दिसंबर 2022 में अपने प्रेमी रवि के खिलाफ पुरोला थाने में भी तहरीर दी थी। तब प्रेमी ने ये कहते हुए तहरीर वापिस करवाई की कि वो शादी करने को तैयार है। इसके साथ ही उसने गवाहों के समक्ष लिखित शर्तनामा भी दिया था और मार्च में शादी करने की बात कबूली थी। लेकिन बाद में वो फिर से मुकर गया।

 

यह पढ़ेंःUttarakhand: सीएम धामी ने राज्य आंदोलनकारियों को श्रद्धांजलि की अर्पित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *