Punjab: मुख्यमंत्री द्वारा पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ में होस्टलों के निर्माण के लिए 48.91 करोड़ रुपए जारी

खबरें सुने
  • लडक़ों के होस्टल के लिए 25.91 करोड़ रुपए और लड़कियों के होस्टल के लिए 23 करोड़ जारी
  • पंजाब यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों को कोई दिक्कत नहीं आने दी जाएगी-मुख्यमंत्री
  • पंजाब यूनिवर्सिटी को राज्य की गौरवमयी विरासत बताते हुए इसकी रक्षा के लिए प्रतिबद्धता अभिव्यक्त की
  • चंडीगढ़, 25 अगस्त:
    पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ में विद्यार्थियों की बड़ी माँग को पूरा करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज यूनिवर्सिटी में लडक़ों और लड़कियों के होस्टलों के निर्माण के लिए 48.91 करोड़ रुपए जारी कर दिए हैं, जिससे विद्यार्थियों को कैंपस में रहन-सहन की बड़ी सुविधा हासिल होगी।
    इस संबंधी विस्तार में बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि लडक़ों के होस्टल के लिए 25.91 करोड़ रुपए, जबकि लड़कियों के होस्टल के लिए 23 करोड़ रुपए जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि इन होस्टलों का निर्माण होने से विद्यार्थियों को बहुत बड़ी सुविधा मिलेगी, क्योंकि यूनिवर्सिटी में पढऩे वाले विद्यार्थियों को होस्टल की कमी के कारण अपने लिए पेइंग गैस्ट या रहने के लिए कोई अन्य जगह ढूँढने की चिंता सताती रहती है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि विद्यार्थियों की ज़रूरतों को मद्देनजऱ रखते हुए इन होस्टलों का निर्माण आधुनिक तरीके से किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन होस्टलों के बनने से विद्यार्थी अपनी पढ़ाई पर और अधिक ध्यान दे सकेंगे और उनको कैंपस में ही आवास की सुविधा मिलने से कहीं और जाना नहीं पड़ेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार इस यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों के हितों की रक्षा के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगी।
    मुख्यमंत्री ने उम्मीद ज़ाहिर करते हुए कहा, ‘‘इन होस्टलों का निर्माण मुकम्मल होने के बाद यह होस्टल विद्यार्थियों को अपने अकादमिक वर्षों के दौरान घर जैसी रहने की सुविधा प्रदान करेंगे। विद्यार्थियों का अपने होस्टल वाले कमरों के साथ ख़ास भावुक सांझ होती है। यह होस्टल केवल चार दीवारों वाले कमरे ही नहीं होंगे, बल्कि यह शिक्षा प्राप्त करने के लिए अनुकूल माहौल भी मुहैया करेंगे।’’
    मुख्यमंत्री ने बताया कि उन्होंने बीती 25 जुलाई को ख़ुद पंजाब यूनिवर्सिटी कैंपस का दौरा करके यूनिवर्सिटी के प्रबंधकों और विद्यार्थियों को दरपेश मुश्किलों के बारे में पूछा था, जिस दौरान लडक़े और लड़कियों के लिए होस्टल बनाने की अपील की गई थी। भगवंत सिंह मान ने कहा कि उन्होंने उस मौके पर ही होस्टल के निर्माण की मंजूरी देते हुए इसका काम जल्द शुरू करने का वायदा किया था, जिसके लिए आज राशि जारी कर दी गई है।
    पंजाब यूनिवर्सिटी को राज्य की गौरवमयी विरासत का हिस्सा बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस गौरवमयी संस्था ने अहम हस्तियाँ पैदा की हैं, जिन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में अपनी अमिट छाप छोड़ी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यूनिवर्सिटी के समूचे विकास के लिए पंजाब सरकार प्रतिबद्ध है, क्योंकि राज्य के 175 कॉलेज इस यूनिवर्सिटी से मान्यता प्राप्त हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार राज्य में शिक्षा क्षेत्र पर विशेष ध्यान दे रही है, चाहे वह स्कूल और कॉलेज स्तर की शिक्षा हो या यूनिवर्सिटी स्तर की शिक्षा हो।

pls read:Punjab: आंगणवाड़ी सैंटरों, क्रेच सैंटरों और ट्रेनिंग सैंटरों को सुरक्षित इमारतों में किया जाये तबदील : डा. बलजीत कौर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *