अमेठी में राहुल गांधी की पदयात्रा, पीएम मोदी की कार्यशैली पर उठाये सवाल

खबरें सुने

अमेठी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी 2019 में अमेठी से लोकसभा का चुनाव हारने के बाद लगभग ढाई साल बाद शुक्रवार को अमेठी पहुंचे तो अपनापन जता दिया। सांसद राहुल गांधी ने कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस प्रतिज्ञा पदयात्रा की। इसके साथ ही उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी की कार्यशैली पर भी कड़ा प्रहार भी किया।

राहुल गांधी ने कहा कि प्रियंका गांधी ने लखनऊ में पदयात्रा के लिए मेरा कार्यक्रम मांगा था। उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले प्रियंका मेरे पास आई और उसने मुझे कहा कि आप लखनऊ चलो मीटिंग करनी है। इसके बाद मैंने बहन से कहा कि लखनऊ के कार्यक्रम में जाने से पहले मैं अपने घर अमेठी जाना चाहता हूं। मैंने उनके अनुरोध पर कहा कि कांग्रेस की प्रतिज्ञा पदयात्रा मैं लखनऊ से नहीं अपने घर अमेठी से शुरू करूंगा। अमेठी मेरा घर है। यहां तो मेरे परिवार के लोग रहते हैं। मेरे व अमेठी के पारिवारिक रिश्ते हैं। इसे तो कोई और कभी भी तोड़ नहीं सकता है। यहां पर मौजूद लोगों से कहा कि आप लोग यहां मुझे मुझे सुनने आए इसके लिए आपका दिल से धन्यवाद। मैं तो 2004 में राजनीति में आया और पहला चुनाव मैं यहां लड़ा था। आपने मुझे बहुत कुछ सिखाया। आपके बीच में रहकर काम करना सीखा हूं। आपने मुझे राजनीति का रास्ता दिखाया। मेरे साथ आप इस रास्ते पर हमेशा चले इसलिए मैं आपको धन्यवाद देना चाहता हूं। राहुल गांधी ने कहा कि आप लोग अब देश की हालत देख रहे है। इस समय देश के सामने दो सबसे बड़े सवाल हैं। बेरोजगारी तथा महंगाई पर ना तो मुख्यमंत्री बोलते हैं और ना ही देश के प्रधानमंत्री। प्रधानमंत्री तो जनता का ध्यान भटकाने में माहिर हैं। कभी मोदी गंगा नदी में स्नान करेंगे तो कभी केदारनाथ चले जाएंगे। इतना ही नहीं कभी हाइवे पर हवाईजहाज लैंड भी करेगा। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी और योगी आदित्यनाथ ध्यान भटकाने का काम करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *