Punjab: पंजाब सरकार को जून महीने में ज़मीन- जायदाद की रजिस्ट्रियाँ से आमदन में रिकार्ड 42 प्रतिशत विस्तार: जिम्पा

खबरें सुने
  • – मई महीनो में भी 22 प्रतिशत बढ़ी आमदन
  • – लोगों को तंग परेशान करने वाले अधिकारियों/ कर्मचारियों ख़िलाफ़ सख़्त कार्यवाही अमल में लेकर आएगें: राजस्व मंत्री
  • -राजस्व विभाग के कामों सम्बन्धित हेल्प लाईन नंबरों पर बेझिझक शिकायत दर्ज करवाने की अपील

चंडीगढ़, 6 जुलाई:

मुख्य मंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व में पंजाब सरकार ने एक ओर प्राप्ति दर्ज की है। पंजाब में ज़मीन- जायदाद की रजिस्ट्रियाँ से पंजाब सरकार के खजाने में जून 2024 दौरान रिकार्ड 42 प्रतिशत ज़्यादा आमदन आई है। राजस्व मंत्री ब्रम शंकर जिम्पा ने कहा है कि पंजाब निवासियों को पारदर्शी, साफ़- सुथरा और भ्रष्टाचार मुक्त सेवाएं देना मुख्य मंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली सरकार का मुख्य लक्ष्य है और इससे राज्य की आमदन में लगातार विस्तार हो रहा है।

विस्तार में जानकारी देते हुए जिम्पा ने बताया कि जून 2024 में स्टैंप और रजिस्ट्रेशन अधीन पंजाब सरकार को 452. 96 करोड़ रुपए की आमदन हुई है जो कि साल 2023 के जून महीने की अपेक्षा 42 प्रतिशत ज़्यादा है। जून 2024 में यह आमदन 319. 33 करोड़ रुपए थी।

जिम्पा ने बताया कि मई 2024 में भी 526.36 करोड़ रुपए सरकारी खजाने में आए जबकि मई 2023 में यह रकम 430.63 करोड़ रुपए थी। पिछले साल के मुकाबले यह विस्तार 22 प्रतिशत बनता है।

उन्होंने कहा कि राज्य की आमदन में लगातार विस्तार हो रहा है और स्टैंप और रजिस्ट्रेशन के अंतर्गत बड़ी रकम सरकार के खजाने में आ रही है। उन्होंने कहा कि राजस्व विभाग के काम को भ्रष्टाचार मुक्त करने के लिए पंजाब सरकार पहले दिन से ही सार्थक प्रयास कर रही है।

उन्होंने कहा कि राज्य में हकूमत संभालने के बाद मुख्य मंत्री भगवंत सिंह मान ने भ्रष्टाचार करने वाले अधिकारियों/ कर्मचारियों की शिकायत के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया था जिसके सार्थक नतीजे सामने आ रहे है। उन्होंन बताया कि राजस्व विभाग के कामों सम्बन्धित शिकायत दर्ज करवाने के लिए भी नंबर 8184900002 जारी किया गया है। एनआरआईज़ राजस्व विभाग सम्बन्धित अपनी शिकायतें 9464100168 नंबर पर दर्ज करवा सकते हैं। यह नंबर सिर्फ़ लिखित शिकायत के लिए है।

उन्होंने कहा कि लोगों को तंग परेशान करने वाले अधिकारियों/ कर्मचारियों ख़िलाफ़ सख़्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी और अपील की कि यदि कोई अधिकारी या कर्मचारी जायज़ काम करने के लिए अपमानित करता है या राजस्व विभाग के कामों सम्बन्धित लोगों को कोई शिकायत है तो वह हेल्प लाईन नंबरों पर बेझिझक शिकायत दर्ज करवाए।

जिम्पा ने पंजाब निवासियों को यह भी अपील की कि राजस्व विभाग के साथ सम्बन्धित किसी भी काम को करवाने के लिए किसी भी अधिकारी या मुलाज़िम को रिश्वत न दी जाए और यदि कोई रिश्वत मांगता है तो इसकी रिपोर्ट तुरंत की जाए। उन्होंने कहा कि भ्रष्ट अधिकारियों और मुलाजिमों को किसी भी कीमत पर बक्शा नहीं जाएगा।

 

Pls read:Punjab: आशीर्वाद योजना अधीन 870 लाभपात्रियों को 4.43 करोड़ रुपए जारी: डा. बलजीत कौर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *