Uttarakhand: चारधाम यात्रा में अबतक 11 लोगों की मौत, भीड़ के चलते बंद किये आफलाइन रिजस्ट्रेशन

खबरें सुने

नई दिल्ली: चार धाम यात्रा को शुरू हुए फिलहाल 5 ही दिन हुए हैं, लेकिन बड़ी संख्या में यात्री पहुंच रहे हैं। अब तक चार धाम यात्रा के लिए गए 11 लोगों की मौत भी हो गई है। यह जानकारी आयुक्त गढ़वाल विनय शंकर पांडे ने एक प्रेस वार्ता में दी। चार धाम में लग रही भारी भीड़ को देखते हुए दो दिनों के लिए ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन भी बंद कर दिया गया है। यह फैसला चार धाम की यात्रा के लिए आने वाले बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं को देखते हुए लिया गया है. बता दें कि चार धाम यात्रा के रजिस्ट्रेशन हरिद्वार और ऋषिकेश में किए जा रहे हैं.

एक प्रेस वार्ता के दौरान गढ़वाल आयुक्त विनय शंकर पांडे ने बताया कि 15 अप्रैल से अभी तक 26,73,519 रजिस्ट्रेशन हुए थे. गंगोत्री में 4,21,366 रजिस्ट्रेशन किए गए. यमुनोत्री में 4,78,576 रजिस्ट्रेशन किओए गए. वहीं हेमकुंड साहिब के लिए अब तक 59 हजार से अधिक लोगों द्वारा रजिस्ट्रेशन किया गया है।

ऑफलाइन के माध्यम से ऋषिकेश में अभी तक 76,120 रजिस्ट्रेशन हुए हैं. हरिद्वार में ऑफलाइन के माध्यम से 66,251 रजिस्ट्रेशन हुए हैं. यमनोत्री में 59 हजार से ज्यादा श्रद्धालुओं ने दर्शन किए हैं. गंगोत्री में 51 हजार से ज्यादा श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं. केदारनाथ में 1 लाख 26 हजार 306 श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं. बद्रीनाथ 39 हजार 574 श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं।

चार धाम यात्रा का जायजा लेने के लिए मुख्यमंत्री सचिव मीनाक्षी सुंदरम आज उत्तरकाशी में मॉनिटरिंग करेंगी. यात्रियों की सहूलियत के लिए और होल्डिंग कैपेसिटी के मुताबिक ही यात्रियों को रोका जा रहा है. गढ़वाल कमिश्नर ने कहा कि उनके लिए यात्रियों की सुरक्षा महत्वपूर्ण है. जिलाधिकारियों को यात्रा रुट पर बसे बाज़ारों को होल्डिंग एरिया बनाने के निर्देश दिए गए हैं।

 

यह पढ़ेंःChardham: चारधाम यात्रा का दुष्प्रचार करने वाले तथा यात्रा के सम्बन्ध में फेक न्यूज या विडियो बनाने वालों के खिलाफ कठोर वैधानिक कार्यवाही के निर्देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *