Punjab: मीत हेयर ने विकासमुखी और लोक पक्षीय बजट के लिए मुख्य मंत्री और वित्त मंत्री की प्रशंसा की

खबरें सुने

बजट में खेल नर्सरियाँ, बलबीर सिंह सीनियर वज़ीफ़ा योजना और खेल यूनिवर्सिटी को प्राथिमकता देने के लिए किया धन्यवाद

चंडीगढ़, 5 मार्च

पंजाब के खेल मंत्री गुरमीत सिंह मीत हेयर ने मुख्य मंत्री स.भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली सरकार का तीसरा बजट पेश करने के लिए वित्त मंत्री स. हरपाल सिंह चीमा की प्रशंसा करते हुए इसको विकासमुखी और लोक समर्थकीय बताया। मीत हेयर ने खेल को विशेष प्राथमिकता देने के लिए मुख्य मंत्री और वित्त मंत्री का विशेष धन्यवाद किया। इस बजट के साथ राज्य में खेल नर्सरियाँ बनाने की शुरुआत होगी। खेलों के लिए कुल 272 करोड़ रुपए का बजट रखा गया।

मीत हेयर ने आज यहाँ जारी प्रैस बयान में कहा कि राज्य सरकार ने जहाँ पिछले दो सालों में राज्य की अर्थ व्यवस्था को फिर रेखा पर लाने का काम किया वही स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि, उचित प्रशासन, खेल आदि के क्षेत्र में इंकलाबी कदम उठाए है। उन्होंने कहा कि खेल के क्षेत्र में खेल नर्सरियाँ, हाकी ओलम्पियन बलबीर सिंह सीनियर वज़ीफ़ा योजना और खेल यूनिवर्सिटी को प्राथिमकता देते हुए विशेष बजट रखा गया है।

खेल मंत्री ने कहा कि मुख्य मंत्री द्वारा राज्य में खेल सभ्याचार पैदा करने के लिए बनाई नयी खेल नीति को ज़मीनी स्तर पर लागू करने के लिए आज के बजट में विशेष ध्यान दिया गया है। राज्य में कुल 1000 खेल नर्सरियाँ बनाई जानी है और प्रति नर्सरी 60 खिलाड़ियों के हिसाब के साथ कुल 60000 खिलाड़ियों की कोचिंग, डाइट और खेल समान का प्रबंध सरकार करेगी। पहले पड़ाव में स्थापित की जाने वाली 250 नर्सरियों के लिए आज बजट में 50 करोड़ रुपए रखे गए है।

मीत हेयर ने आगे बताया कि सीनियर और जूनियर स्तर पर नैशनल पदक विजेता खिलाड़ियों को क्रम अनुसार 16000 रुपए और 12000 रुपए देने के लिए हाकी ओलम्पियन बलबीर सिंह सीनियर वज़ीफ़ा स्कीम के लिए मौजूदा बजट में फंड रखने साथ नये वित्तीय साल से यह महत्वपूर्ण शुरू हो जाएगी। इसी तरह खेल विज्ञान, प्रौद्यौगिकी, प्रबंधन और कोचिंग क्षेत्र में शिक्षा को उत्साहित करने के लिए खेल यूनिवर्सिटी पटियाला के लिए विशेष के तौर पर 34 करोड़ रुपए रखे गए है।

खेल मंत्री ने आगे कहा कि मुख्य मंत्री के निर्देशो पर शुरू की ” खेडां वतन पंजाब दीया” के लिए बजट में विशेष जगह रखी गई है। बीत रहे वित्तीय वर्ष दौरान 14, 728 खिलाड़ियों को 54 करोड़ रुपए की नगद इनाम राशि और 11 प्रसिद्ध खिलाड़ियों को पीसीएस/ डीएसपी की नौकरियाँ दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *