Farmer protest: किसान आंदोलन के नौंवे दिन शंभू बार्डर पर तनातनी, केंद्र ने दिया बातचीत का प्रस्ताव

खबरें सुने

चंडीगढ़। किसान प्रदर्शन के नौवें दिन भी दिल्ली कूच को लेकर पंजाब हरियाण के शंभू बार्डर पर किसान और पुलिस आमने सामने हैं। दोनों में तनातनी के बीच केंद्र  सरकार ने किसानों से शांति की अपील कर बातचीत का न्योता दिया है। किसान और केंद्र के बीच यह पांचवें दौर की बैठक होगी।

एजेंसी एएनआई के अनुसार, केंद्रीय कृषि मंत्री अर्जुन मुंडा ने एक्स पर पोस्ट कर बताया कि सरकार चौथे दौर के बाद पांचवें दौर में सभी मुद्दे जैसे की न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) की मांग, फसल विविधीकरण (Crop diversification), पराली का विषय और प्राथमिकी (FIR) को लेकर बातचीत के लिए तैयार है। कृषि मंत्री ने कहा कि मैं दोबारा किसान नेताओं को चर्चा के लिए आमंत्रित करता हूं। हमें शांति बनाए रखना जरूरी है।

युक्त किसान मोर्चा (गैर राजनीतिक) के नेता और सदस्य मंगलवार सुबह से ही शंभू और खनौरी बॉर्डर पर रणनीति बनाने में जुट गए। इसके तहत किसान कंक्रीट व भारी-भरकम बैरिकेड तोड़ने के लिए बख्तरबंद भारी मशीनरी लेकर किसान शंभू बॉर्डर पर पहुंचे हैं। बता दें एसकेएम के नेतृत्व में 22 फरवरी को किसानों के 500 संगठन दिल्ली में अपनी मांगों को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ रणनीति बनाने के लिए मंथन करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *