मासूम को बंधक बनाकर मां से सामूहिक दुष्कर्म

खबरें सुने

सितारगंज (ऊधमसिंह नगर) : शक्तिफार्म क्षेत्र से नौकरी के नाम पर महिला को बरेली ले जाकर बेचे जाने व खरीदार आरोपितों की ओर से चाकू की नोक पर महिला की दो साल की मासूम बच्ची को रख महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला सामने में आया है। पुलिस ने कार्रवाई कर महिला को बदायूं से बरामद कर लिया है। आरोपितों की तलाश कर रही है।

शक्ति फार्म के एक गांव निवासी विवाहिता महिला ने पुलिस को बताया कि उसके पति की गैर मौजूदगी में पड़ोसी युवक सुकेश ने उसकी आर्थिक तंगी का फायदा उठाते हुए नौकरी दिलाने का झांसा दियाl बताया कि आरोपितों ने दस हजार वेतन की नौकरी दिलाने की बात कहकर एक नवंबर को उसे और उसकी दो साल की मासूम बेटी को बाइक से सितारगंज ला कर अपने पिता के साथ बाइक से बरेली भेज दिया। जहां तीन दिनों तक महिला अपनी बच्ची के साथ सुकेश के स्वजनों के साथ रही। आरोप है कि इसके बाद सुकेश उसके पिता रामवीर, मां समता, बहन प्रियंका ने उसे बरेली से बंदायू राम सिंह पुत्र सुंदरलाल, राजवीर सिंह पुत्र राम सिंह निवासीगण जगवासही मूसाझाग बदायूं व एक अज्ञात व्यक्ति के साथ भेज दिया। आरोपितों ने पीड़िता से कहा कि उसे बदायूं के तीनों लोगों के साथ काम करना है। आरोपित उसे बदायूं ले गये। जहां तीनों आरोपिताो ने उसका मोबाइल छीन उसके साथ मारपीट की।

पीड़िता का आराेप है कि जिस घर में उसे रखा गया था उस मकान में राम सिंह, उसके पुत्र राजवीर, राम सिंह के दामाद ने उसकी दो साल की मासूम बेटी को चाकू की नोक पर रखकर महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। विरोध करने पर आरोपित बोले तुझे 60 हजार रुपये में उसे खरीदा है। वे जो चाहेंगे करेंगे। वहीं पीड़िता के पति ने महिला के लापता होने की सूचना 30 नवम्बर को दर्ज करा दी थी। पुलिस महिला को बरामद करने के लिये जांच कर रही थी। तभी पुलिस को महिला के बदायूं में होने की सूचना मिली। पुलिस ने महिला को बंदायू से बरामद कर पीड़िता की शिकायत पर सुकेश, रामवीर, समता, राम सिंह, राजवीर सिंह के खिलाफ मुकदा दर्ज कर लिया है। शक्तिफार्म चौकी इंचार्ज संजीत कुमार ने बताया ह्यूमन ट्रैफकिंग के गिरोह को पकड़ने के लिये पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। जल्द मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *