Uttarpradesh: लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे हादसा पर अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर लगाया लापरवाही का आरोप

खबरें सुने

, छह सवाल पूछे

नई दिल्ली, 10 जुलाई: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर हुए हादसे में 18 लोगों की मौत का कारण बीजेपी सरकार की लापरवाही बताया है। उन्होंने छह सवाल उठाते हुए भाजपा सरकार से इन प्रश्नों का जवाब मांगा है।

अखिलेश यादव के सवाल:

  1. एक्सप्रेसवे पर विशेष पार्किंग जोन की व्यवस्था होते हुए भी, कोई वाहन बीच रास्ते में क्यों खड़ा हुआ था?

  2. सीसीटीवी के लगे रहने के बावजूद खड़े वाहन की निगरानी में चूक कैसे हुई? क्या सीसीटीवी काम नहीं कर रहे थे?

  3. हाई-वे पुलिस कहां थी, क्या नियमित पेट्रोलिंग नहीं हो रही थी?

  4. इस हादसे के बाद हाईवे एम्बुलेंस सर्विस कितनी देर में पहुंची और हताहतों के संबंध में उसकी भूमिका क्या रही?

  5. यदि गाड़ी खराब होने के कारण खड़ी थी, तो उसे टोइंग सहायता क्यों नहीं पहुंची?

  6. एक्सप्रेसवे पर प्रतिदिन करोड़ों रुपए लिए जाते हैं, वो पैसा एक्सप्रेसवे के व्यवस्थापन और प्रबंधन में न लग कर, क्या कहीं और जा रहा है?

हादसे की जानकारी:

  • उन्नाव में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर बेहटा मुजावर क्षेत्र के गढ़ा गांव के पास बुधवार तड़के यह हादसा हुआ।

  • स्लीपर बस दूध टैंकर में पीछे से टकरा गई।

  • हादसे में एक बच्चे समेत 18 लोगों की मौत हो गई और 19 लोग घायल हो गए।

  • हादसे की वजह ड्राइवर को झपकी आना बताया जा रहा है।

प्रशासन का बयान:

  • बांगरमऊ सीओ अरविंद चौरसिया ने बताया कि यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है।

  • बिहार के शिवहर जिले से “नमस्ते बिहार” नामक बस चलती थी, जिसमें काफी यात्री सवार थे।

  • दूध के कंटेनर से टक्कर होने के कारण 18 लोगों की मौत हुई।

  • डीएम ने मामले पर संज्ञान लेते हुए आरटीओ को निर्देश दिए हैं और एफआईआर कराई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *