Uttarakhand: गौला नदी के खनन को निजी हाथों पर देने से बिफरी कांग्रेस

खबरें सुने

हल्द्वानी। राज्य में खनन कार्य व वाहनों की फिटनेस निजी हाथों में देने को लेकर विपक्ष ने धामी सरकार को घेरना तेज कर दिया है। हल्द्वानी विधायक सुमित हिरदयेश ने गौला नदी के खनन को निजी हाथों में देने के खिलाफ खुला मोर्चा खोल दिया है।

हल्द्वानी विधायक सुमित हृदयेश ने सोमवार को प्रेस वार्ता कर गौला खनन संघर्ष समिति को अपना समर्थन दिया है। विधायक ने कहा कि गौला नदी से हल्द्वानी की पूरी अर्थव्यवस्था चलती है, जिसपर सरकार मनमानी पर उतर आई है। राज्य सरकार खनन को निजी हाथों में दे रही है। इसके अलावा वाहनों का फिटनेस पहले ही निजी हाथों में दे दी है। जिससे खनन से जुड़े लोग परेशान है। छोटे कारोबारी परेशान हैं।

सुमित हृदयेश ने कहा कि राज्य सरकार अब लोगों से रोजगार छीनकर माफिया राज फैलाना चाहती है। सरकार उत्तराखंड की जल, जंगल और जमीन को बेचने में जुटी हुई है। उन्होंने सरकार से तत्काल निजीकरण समाप्त करने की मांग की है। विधायक ने कहा कि कांग्रेस पार्टी सड़क से लेकर सदन तक इस लड़ाई को मजबूती से लड़ेगी।

 

यह पढ़ेंःUttarakhand: 2025 तक उत्तराखंड को ड्रग्स फ्री करने को लेकर सीएम धामी ने ली उच्च अधिकारियों की बैठक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *