punjab: पंजाब सरकार द्वारा एन.एम.डी.एफ.सी की देनदारियों के लिए चालू वित्तीय वर्ष के दौरान 25 करोड़ रुपए की राशि जारी

खबरें सुने

साल 2017 से बकाया थीं देनदारियां, पिछली सरकारों द्वारा देनदारियां क्लीयर करने संबंधी कोई राशि मुहैया नहीं करवाई गई

चंडीगढ़, 30 सितम्बर:

मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार पिछड़ी श्रेणियों का आर्थिक मानक ऊँचा उठाने के लिए लगातार प्रयासशील है। पंजाब सरकार द्वारा एन.एम.डी.एफ.सी की देनदारियां क्लीयर करने के लिए साल 2023-24 में 25 करोड़ रुपए की राशि जारी की है।

सामाजिक न्याय, अधिकारिता एवं अल्पसंख्यक मंत्री डॉ. बलजीत कौर ने बताया कि पंजाब पिछड़ी श्रेणियों, भू विकास एवं वित्त निगम (बैकफिंको) द्वारा स्व-रोजग़ार योजनाओं के लिए कम ब्याज दरों पर ऋण उपलब्ध करवाए जाते हैं।

कैबिनेट मंत्री ने बताया कि स्व-रोजग़ार योजना साल 2017 से नेशनल कॉर्पोरेशन (एन.एम.डी.एफ.सी) की देनदारियां बढऩे के कारण उनके द्वारा साल 2017-18 के बाद टर्म लोन की कोई भी राशि जारी नहीं की गई थी। उन्होंने यह भी कहा गया कि 2017 के बाद देनदारियां को क्लीयर करने के लिए पिछली सरकारों द्वारा कोई राशि मुहैया नहीं करवाई गई। पंजाब सरकार द्वारा एन.एम.डी.एफ.सी की देनदारियां क्लीयर करने के लिए साल 2023-24 के बजट में 25 करोड़ रुपए का उपबंध किया गया है। यह राशि जारी करने के लिए पंजाब सरकार द्वारा 29 सितम्बर, 2023 को जारी करने की मंजूरी दे दी है।

डॉ. बलजीत कौर ने बताया कि बैकफिंको द्वारा इससे पंजाब राज्य के अल्पसंख्यक वर्ग के जरूरतमंद व्यक्तियों को स्व-रोजग़ार शुरू करने के लिए अलग-अलग पेशों जैसे कि डेयरी फार्मिंग, पोल्ट्री फार्मिंग, शहद की मक्खियाँ पालन, ब्यूटी पार्लर, टेलरिंग, जनरल स्टोर, इलैक्ट्रिकल सेल और रिपेयर आदि के अधीन 5 लाख रुपए तक के ऋण 6-8 प्रतिशत सालाना ब्याज दर पर मुहैया करवाए जाएंगे। इसके अलावा अल्पसंख्यक वर्ग के विद्यार्थियों के लिए प्रोफैशनल/टैक्नीकल एजुकेशन, ग्रेजुएशन और इससे आगे की पढ़ाई करने के लिए एजुकेशन लोन स्कीम के अंतर्गत भारत में पढ़ाई करने के लिए 20.00 लाख रुपए तक और विदेश में पढ़ाई करने के लिए 30.00 लाख रुपए तक के ऋण 3-8 प्रतिशत सालाना ब्याज दर पर दिए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि बैकफिंको एन.एम.डी.एफ.सी के सहयोग से पंजाब राज्य में अल्पसंख्यक वर्ग के कल्याण के लिए काम कर रही है।

मंत्री ने आगे बताया कि इस योजना का लाभ अल्पसंख्यक वर्ग के अधिक से अधिक व्यक्तियों को देने के लिए जागरूकता कैंप भी लगाए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *